• Wed. Jun 12th, 2024

आपका समाचार

आपसे जुड़ी ख़बरें

U.S Handedover Antiquities : अमेरिका ने वापस किए भारत के 105 प्राचीन धरोहर।

U.S Handedover Antiquities To India : 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिका दौरे के बाद अब अमेरिका एक बड़ा और अच्छा कदम उठाते हुए भारत के 105 प्राचीन मूर्तियों और कलाकृतियों वापस भारत भेजेगा

भारतीय संस्कृति और धार्मिक विरासत के एक अहम हिस्से के रूप में अभिव्यक्त विभिन्न क्षेत्रों और परंपराओं के 105 तस्करी ऐतिहासिक वस्तुओं की घरवापसी हुई है! ये प्राचीन वस्तुएं, जो अमेरिकी पक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऐतिहासिक राजदूत दौरे के उपाय के रूप में सौंपी गईं हैं, द्वितीय शताब्दी ईसा पूर्व तक के समय में तक जाती हैं और इनमें निम्नलिखित प्रमुख सांस्कृतिक और धार्मिक विरासत शामिल हैं:

 

  • राजस्थान से 12-13वीं शताब्दी की संगमरमर की आर्क

  • मध्य भारत से 14-15वीं शताब्दी की अप्सरा

  • दक्षिण भारत से 14-15वीं शताब्दी के संबंधर

  • दक्षिण भारत से 17-18वीं शताब्दी का कांस्य नटराज

इन वस्तुओं का पुनर्वापसी भारत के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण है, जो हमारे ऐतिहासिक और सांस्कृतिक धन को पुनः स्थापित करने में मदद करेगा। यह जानकारी भारत के अमेरिकी दूतावास द्वारा ट्विटर पर भी दी गई

भारत में अमेरिका के राजदूत Eric Gracetti ने बताया की अमेरिकी सरकार भारत को मूर्तियां और कलाकृतियां लौटने k पर काम कर रही है जो की भारत अमेरिका के बीच दोस्ती को और बढ़ाएगा।

उन्होंने यह भी बताया की यह मूर्तियां दूसरी शताब्दी से लेके उन्नीसवीं शताब्दी तक की हैं और यह भी कहा की इन मूर्तियों की सही जगह भारत में है नाकि किसी अन्य देश में।

हाल के सालों में जब भी प्रधान मंत्री ने किसी भी समृद्ध देश का दौरा किया जहां भारत के धरोहर को गलत तरीके से रखा गया है। उस देश ने भारत की धरोहरों को लौटाया है। जब प्रधानमंत्री 2016 में अमेरिका के दौरे पर गए थे तब अमेरिका ने 16 और जब 2021 में प्रधानमंत्री अमेरिका के दौरे पर गए थे तब अमेरिका ने 157 मूर्तियों और कलाकृतियों को लौटाया था।

इस विषय पर और ज्यादा जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करें ->https://aninews.in/news/world/us/we-have-been-working-to-return-art-that-needs-to-be-in-india-us-envoy-garcetti-on-repatriation-of-105-antiquities20230718072828/

और आप इस विषय पर अपनी राय हमे कमेंट में बताएं

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *