• Thu. Jun 20th, 2024

आपका समाचार

आपसे जुड़ी ख़बरें

India G-20 : जी- 20 सम्मेलन के लिए भारत ने बनाई विश्व की सबसे शानदार इमारत।

G-20

प्रगति मैदान में स्थित आईईसीसी (India International Exhibition Centre – IECC) इस साल भारत में जी-20 (G-20) की मेज़बानी करेगा, जिसमें विश्व के 20 प्रमुख राष्ट्रीय अर्थतंत्रों के प्रतिनिधियों के बीच महत्वपूर्ण आर्थिक मुद्दों पर चर्चा होती है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आईईसीसी के नए भवन का उद्घाटन किया।

आईईसीसी के नए भवन का उद्घाटन होने से यह संस्थान और प्रगति मैदान उद्योग, व्यापार और विज्ञान के क्षेत्र में एक नई उम्मीद के साथ उभरेगा। इससे भारत को विश्वस्तरीय फोरमों पर और भी सक्रियता से शामिल होने का मौका मिलेगा और उसे अंतरराष्ट्रीय बाजारों में अधिक विकसित होने का अवसर मिलेगा।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने आईईसीसी के सदस्यों को उनके प्रयासों के लिए शुभकामनाएं दी और उनके संघर्षों को सम्मानित किया जो भारत के उद्योग और व्यापार को अंतरराष्ट्रीय मंचों पर उत्कृष्टता के साथ प्रस्तुत करने में योगदान देते हैं

IECC बिल्डिंग की कुछ तश्वीरें :

IECC बिल्डिंग की तस्वीर
 IECC बिल्डिंग की तस्वीर IECC बिल्डिंग की तस्वीरIECC बिल्डिंग की तस्वीर

 

क्या है IECC और ITPO :

प्रगति मैदान भारत की राजधानी दिल्ली में स्थित एक प्रमुख परिचारिका जगह है, जहां आईईसीसी कॉम्प्लेक्स और आईटीपीओ (इंडिया इंटरनेशनल एक्सिबिशन सेंटर और इंडिया ट्रेड प्रोमोशन आर्गेनाइजेशन) स्थित हैं। इन दोनों संस्थानों का महत्वपूर्ण योगदान भारतीय उद्योग और व्यापार को विश्व में प्रमुख स्थान पर ले जाने में है।

आईईसीसी कॉम्प्लेक्स (India International Exhibition Centre – IECC):
आईईसीसी कॉम्प्लेक्स एक विश्वस्तरीय प्रदर्शनी केंद्र है जो भारत में अनेक विभिन्न उद्योगों, व्यापार और कृषि सेक्टरों के लिए प्रदर्शनियों, संगठनाओं और विभिन्न आयोजनों के लिए उपयुक्त है। यह एक स्थायी प्रदर्शनी संरचना है जो नियमित अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनियों को आयोजित करती है, जिसमें अनेक देशों से उद्योग, व्यापारी और विपणन संघों की भागीदारी होती है।

आईटीपीओ (India Trade Promotion Organisation – ITPO):
आईटीपीओ भारत सरकार के उपक्रम है, जो विश्वस्तरीय व्यापार, वित्तीय सेवाएं, औद्योगिक उत्पाद और कृषि संबंधी प्रदर्शनी, सम्मलेन, अध्ययन और विपणन के लिए जिम्मेदार है। यह भारतीय उद्योग और व्यापार को विश्वस्तरीय फोरमों के माध्यम से प्रदर्शित करता है और उन्हें अंतरराष्ट्रीय बाजार में अवसर प्रदान करता है।

नरेंद्र मोदी जी ने पूजा के बाद उद्घाटन समारोह में संबोधन देते हुए कहा, “आज हम यहां एक महत्वपूर्ण और सांस्कृतिक घटना का आयोजन कर रहे हैं, जहां भारत विश्व के प्रमुख राष्ट्रों के नेताओं को स्वागत करेगा। यह G-20 मीटिंग भारत के लिए एक गर्व की बात है और हमें अन्तरराष्ट्रीय समुदाय में मजबूत भूमिका देती है।

 

नरेंद्र मोदी जी ने आगे कहा की जब वह पहली बार प्रधानमंत्री बने थे तब भारत विश्व में 10वें नंबर को अर्थव्यवस्था था। जो उनके दूसरे टर्म के पूरा होने से पहले 5वें नंबर। पर आ गया है और उन्होंने यह भी आश्वासन दिया की तीसरे टर्म के खतम होने से पहले भारत को विश्व के शीर्ष तीन
अर्थव्यवस्थाओं में खड़ा होगा। ‘

G-20 G-20

यह नया इन्फ्रास्ट्रक्चर जी-20(G-20) सम्मेलन को ध्यान में रख कर बनाया गया है। इस इमारत को 2017 से बनाया जा रहा था और इसकी कुल लागत 2700 करोड़ रुपए है।

जब भी किसी देश को जी- 20 की अध्यक्षता मिलती है खासतौर पर एशियन देश वह एक नया और बड़ा कन्वेशन सेंटर बनाते ही है। अगर हम बात करे अपने पड़ोसी, चीन की तो 2016 में उन्हें जी- 20 की अध्यक्षता मिली थी तो उन्होंने हांगझोऊ शहर में बहुत बड़ा एग्जीबिशन सेंटर बनाया था। यह इसलिए जरूरी होता है क्योंकि इस वक्त पर देश में विश्व के सभी बड़े देशों के शीर्ष स्तर के नेता आते है। जिनकी सुरक्षा से लेकर आराम का बहुत ही ध्यान रखा जाता है।

क्या है जी- 20 (G-20) :

जी-20 या जी-विश्व भारत के साथी राष्ट्रों का एक अंतर्राष्ट्रीय समूह है जिसमें विश्व के 20 प्रमुख अर्थतंत्रों के प्रतिनिधियों के बीच आर्थिक मुद्दों पर चर्चा होती है। इस मंच के माध्यम से सदस्य राष्ट्रें विभिन्न विकास और आर्थिक मुद्दों पर सहयोग करते हैं और वैश्विक आर्थिक उद्दीपना और सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए सम्मिलित रूप से कदम उठाते हैं। जी-20 आर्थिक सहयोग, वित्तीय स्थिरता और ग्लोबल आर्थिक समृद्धि को प्रोत्साहित करने का मिशन रखता है। इससे सदस्य देशों के बीच सहयोग बढ़ता है और आर्थिक विकास की सामान्य हालत सुधारती है। यह एक महत्वपूर्ण ग्लोबल फोरम है जो आर्थिक मामलों के समाधान के लिए प्रमुख संस्थानों में से एक है।

आप भी हमे X ट्विटर पर फॉलो कर सकते है – https://twitter.com/Aapka_Samachaar

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *